दिल भर आता है, आँख भी रोती है

दिल भर आता है, आँख भी रोती है : संध्या चतुर्वेदी अहमदाबाद, गुजरात

दिल भर आता है। आँख भी रोती है। जब कोई मासूम, आबरू खोती है। पांव में पायल, बालों में चिमटी, हाथों में छोटा, सा कंगना भी, शोर करता है। जब …

Read More